Tuesday, February 27, 2018

Secrets of Palmistry by Renowned Indian Palmist: Upay for love Marriage

Secrets of Palmistry by Renowned Indian Palmist: Upay for love Marriage:   #Upay for  #Broken #love and  #Marriage There is a Saying that marriages are made in Heven .  At times we are unable to get perfec...

Secrets of Palmistry by Renowned Indian Palmist: Upay for love Marriage

Secrets of Palmistry by Renowned Indian Palmist: Upay for love Marriage:   Upay for  Broken love and  Marriage There is a Saying that marriages are made in Heven .  At times we are unable to get perfec...

Upay for love Marriage

  Upay for  Broken love and  Marriage



There is a Saying that marriages are made in Heven .
 At times we are unable to get perfect Match for love or marriage so we end up either  breaking relation or unsuccsellful relations . here are cetain Upaya for broken  love and Marriage 

Worship  God Vishnu and lakshmi every day

If Venus Is afflicted wear Gemstone  Diamind or Zakon in Index Finger

If Jupitar is afflicted Gemstone Yellow Spaphire is adviced 
 You can Wear Blue Topaz for Charm In Love Life 
Keep fast of at least 16 Monday . Fasting will help you to reach you goal faster
Keep rabbit in your house and feed them by your own hand.
Worship  of Moon  will give you  success in love marriage

#nishaghai #palmist #love #marriage  #RemedyLove #remedyDelayMarriage #Astrologermarriage  

Tuesday, January 30, 2018

THE SUPER BLUE MOON BLOOD MOON DOES AND DONTS

THE SUPER BLUE MOON BLOOD MOON 
DOES AND DONTS


 Lunar Eclipse indicate new beginning  in life which can be good or bad .

 Total Lunar Eclipse or Blood Moon will occur on 31 January 2018 with Moon in Aslesha constellation of Karka Rasi (Cancer) according to Vedic Astrology. This lunar eclipse 31 January 2018 will be visible throughout the globe, except in western European countries, Most of Africa and South America.

What to do –  There is lot written about the reasons of Blood Moon and Blue Moon . It’s a very big event since its occurring after 150 years .So What to do ?  

Doing prayers , chanting mantras,  keeping positive attitude can help us in getting best out of eclipse . Just write down all you want in life in a piece of paper  your wishes your desires ,intentions and connect the universe with the help of mantras  and let the unique planetary combination  work for you in attaining them .




            Chandra Mantras to chant   for love , happiness prosperity in life 

 Beej mantra of Chandra can bring balance and harmony between two people
Mantra can be chanted 10000 times in 40 days.
*‘Om Shraam Shreem Shraum Sah Chandraya Namah’
*‘Om Som Somaya Namah’

Detox your self from stress with this powerful mantra chant it 12500 times
*Dadhishangkhatushaarabham Ksheerodaarnvasambhavam
*Namaami Shashinam Somam Shambhormukutbhooshanam’

For professional Growth in Life chant Chandra  Gayatri every day 108 times

*Om Nisakaraaya vidmahe, kalanaathaya dhimahi, tanno Somah prachodayat"


Chandra Grehan mantra to remove ill effects during grehan. Chant this mantra 51 times
*Om Shraang Shreeng Shroung Sah Chandramase Namah

How to Chant Mantra
To Get the best result chant mantra in the morning after taking bath in any clean  place it can me your praying place . It is recommended to fix one place  for chanting mantra to get the best results .
Article By Nisha Ghai

#Palmist and #Numerologist 


Sunday, January 21, 2018

वीणा वादिनी वर दे Happy Basant Panchmi

बसंत पंचमी का पर्व बसंत ऋतु के आगमन की सूचना देता है। चारों तरफ हरियाली महकते फूलों की छटा  बिखेरती है और मंद वायु से वातावरण सुहाना हो जाता है। खेत खलिहानों में पीली सरसों लहलहाने लगती है। शरद ऋतु की विदाई के साथ पेंड़ पौधों और प्राणियों में नये जीवन का संचार होता है।
ऐसा माना जाता हैं कि बसंत पंचमी के दिन माँ सरस्वती का अवतार हुआ था। कहते है कि माँ सरस्वती के आगमन से प्रकृति का श्रृंगार हुआ तभी से बसंत पंचमी पर माँ सरस्वती की पूजा अर्चना करने की परमपरा शुरू हुई।

http://www.instituteofpalmistry.com/palmistry.aspx?ID=1

ब्संत पंचमी मनाने के संबंध में कई मत प्राप्त हैं। एक के अनुसार इस दिन विद्या की देवी सरस्वती का पूजन करना चाहिये। दूसरे मत में इसे लक्ष्मी सहित विष्णु के पूजन का दिन बताया गया है। एक अन्य मत के अनुसार इस तिथि को रति और कामदेव की पूजा भी करना चाहिये क्यों कि कामदेव और बसंत मित्र हैं।
बसंत पंचमी को सरस्वती की पूजा क्यो?
भारत में माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को सरस्वती की पूजा के दिन रूप में भी मनाया जाता है। धार्मिक ग्रंथों में ऐसी मान्यता है कि इसी दिन शब्दों की शक्ति मनुष्य के जीवन में आई थी। पुराणों में लिखा है सृष्टि को वाणी देने के लिये ब्रह्मा जी ने कमंडल से जल लेकर चारों दिशाओं में छिड़का। इस जल से हाथ में वीणा धारण किये जो शक्ति प्रकट हुई वह सरस्वती कहलाई। उनके वीणा का तार छेड़ते ही तीनो लोकों में ऊर्जा का संचार हुआ और सबको शब्दों की वाणी मिल गई। वह दिन बसंत पंचमी का दिन था इसलिये बसंत पंचमी को सरस्वती देवी का दिन भी माना जाता है।
वीणा और ज्ञान की देवी सरस्वती

वाग्देवी, वीणावादिनी जैसे नामों से जाने वाली देवी ज्ञान और विद्या का प्रतीक है। इन्हे साहित्य, कला, संगीत और शिक्षा की देवी माना जाता है। माँ शारदे की चारों भुजाये चारों दिशाओं का प्रतीक हैं। एक हाथ में वीणा, दूसरे में वेद की पुस्तक, तीसरे में कमंडल तथा चैथे में रूद्राक्ष की माला। यह प्रतीक हमारे जीवन में प्रेंम, समन्वय विद्या, जप, ध्यान तथा मानसिक शांति को प्रकट करते हैं।

इस दिन कैसे करे माँ को प्रसन्न?
बसंत पंचमी के दिन कोई उपवास नहीं होता, केवल पूजा होती है। इस दिन पीले वस्त्र पहनने, हल्दी का तिलक लगाकर, मीठे चावल बना कर पूजा करने का विधान है। विद्यार्थियों, संगीतकारांे, कलाकारों के लिये यह विशेष महत्व का दिन है। उन्हे अपनी पुस्तकों, वाद्यों आदि की अवश्य पूजा करनी चाहिये। पीला रंग समृद्धि का सूचक भी कहा जाता है।

मां #सरस्वती को #प्रसन्न करने के लिये  #मंत्र का जाप करेंः-
ऊँ ऐं सरस्वत्चैं ऐं नमः का 108 बार जाप करें।
इस प्रार्थना से माँ को प्रसन्न करें।
#निशा घई
#पामिस्ट, #ज्योतिष, #अंकशास्त्री #बसंत पंचमी #HappyBasantpanchmi #SarsvatiPuja